Trending

मोदी सरकार के खिलाफ ‘दीदी’ की हुंकार, विपक्ष की एकता हो तो 6 माह में सामने होंगे नतीजे

बोलीं, आपातकाल जैसे हैं मौजूदा हालात

Story Highlights
  • दिल्‍ली में मोदी सरकार पर बरसीं सीएम ममता बनर्जी
  • विपक्ष की सभी पार्टियों से एकजुट होने की अपील
  • कांग्रेस की मुखिया सोनिया गांधी से की मुलाकात

नई दिल्‍ली। मोदी सरकार(Modi government) के खिलाफ पश्चिम बंगाल की मुख्‍यमंत्री ममता(Mamta banarji in Delhi ) बनर्जी ने एकबार फिर हुंकार भरी है। दिल्ली पहुंची ममता दीदी ने केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला। ममता बनर्जी ने सभी विपक्षी(Opposition) पार्टियों से एकजुटता दिखाने की अपील की।

ममता बनर्जी ने सभी विपक्षी पार्टियों से अपील की कि भाजपा से लड़ने के लिए सभी का एक-साथ आना बेहद जरूरी है। ‘कुछ राज्यों में चुनाव होने जा रहे हैं, हम समय-समय पर राजनीतिक दलों से मिलते रहेंगे। एक ऐसा प्लेटफॉर्म जरूर होना चाहिए जहां हम एक साथ काम कर सकें। संसद सत्र के बाद हम सब एक साथ बैठकर जरूर इसपर फैसला करेंगे।

गैर भाजपाई सीएम हों एक तो आएगी उखाड़ फेंकने वाली आंधी

ममता बनर्जी ने केंद्र सरकार को चुनौती देते हुए कहा कि गैर भाजपाई मुख्यमंत्रियों के साथ उनके रिश्ते काफी अच्छे हैं। उन्होंने उदाहरण देते हुए कहा कि आंध्र प्रदेश के सीएम जगन मोहन रेड्डी, ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक, तमिलनाडु के सीएम एमके स्टालिन, महाराष्ट्र के चीफ मिनिस्टर उद्धव ठाकरे और झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन इन सभी से उनके रिश्ते अच्छे हैं। अगर एक राजनीतिक आंधी आई तो आप उसे रोक नहीं पाएंगे। अगर विपक्षी पार्टियां गंभीर हो जाएं तो छह महीने में नतीजे सामने आ जाएंगे।

बोलीं-आम चुनाव में होगा ‘खेला’

पत्रकारों से बातचीत के दौरान पश्चिम बंगाल की सीएम से यह पूछा गया कि क्या वो विपक्ष का चेहरा बनेंगी? तो इसपर उन्होंने गोलमोल जवाब दिया। ममता ने कहा कि मैं राजनीतिक ज्योतिषी नहीं हूं, स्थिति पर निर्भर करता है, अगर कोई और नेतृत्व करता है तो उससे कोई समस्या नहीं है, मैं एक साधारण कार्यकर्ता हूं, एक कार्यकर्ता ही बनी रहना चाहती हूं। ममता बनर्जी ने कहा कि पूरे देश में खेला होगा। यह एक सतत प्रक्रिया है। जब आम चुनाव होंगे तब यह मोदी बनाम देश होगा।

Tags
Back to top button
Close