Trending

Ayodhya : पीएनबी की महिला अधिकारी ने दी जान, पुलिस और एसएसफ हेड पर लगाए ये गंभीर आरोप

मूल रूप से लखनऊ के राजाजीपुरम की निवासी थीं, अखिलेश यादव ने न्यायिक जांच की मांग की

अयोध्या। पंजाब नेशनल बैंक के क्षेत्रीय दफ्तर में तैनात अधिकारी श्रद्वा गुप्ता (30) ने फंदे से लटककर जान दे दी। कमरे से पुलिस को मिले सुसाइड नोट में तीन लोगों के नाम शामिल हैं।

अयोध्या के खवासपुरा निवासी विष्णु अग्रवाल के घर में बैंक अधिकारी श्रद्धा किराए पर रहती थीं। लखनऊ के राजाजीपुरम की निवासी अधिकारी के पिता राजकुमार गुप्त की कपड़े की दुकान हैं। शुक्रवार शाम से ही परिजनों की कॉल रिसीव नहीं हो रही थी।

शनिवार को परिजनों ने मकान मालिक को फोन करके जानकारी की। मकान मालिक ने जब बैंक ऑफिसर के कमरे में खिड़की से देखा तो \पैर लटकता नजर आया। इस पर उन्होंने तुरंत परिजनों को जानकारी दी। जब तक परिजन यहां पहुंचे तब तक एसएसपी शैलेष कुमार पाण्डेय पहुंच गए। पुलिस ने दरवाजा तोड़ा तो श्रद्धा का फंदे से शव लटक रहा था। पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया।

बैंक अधिकारी के कमरे से एक सुसाइड नोट मिला है। इसमें मौत के लिए तीन लोगों को जिम्मेदार बताया जा रहा है। जिस विवेक गुप्त का नाम लिखा है श्रद्धा की उससे शादी की बात चल चुकी थी। लेकिन रिश्ता नहीं हो पाया था। दूसरा नाम नाम आशीष तिवारी एसएसएफ हेड लखनऊ है। तीसरा नाम अनिल रावत जो फैजाबाद में पुलिस विभाग में है।

सुसाइड नोट
श्रद्धा ने लिखा कि ‘पापा-मम्मी मेरे सुसाइड की वजह विवेक गुप्त, आशीष तिवारी और अनिल रावत ये तीन हैं। आई एम सॉरी फार दिस’।

अखिलेश यादव ने की न्यायिक जांच की मांग

अयोध्या में पंजाब नेशनल बैंक की महिला कर्मचारी की आत्महत्या मामले में मिले सुसाइड नोट में जिस प्रकार पुलिस के लोगों पर सीधा आरोप है वो उप्र में बदहाल क़ानून-व्यवस्था का कड़वा सच है। इसमें सीधे एक आईपीएस अफ़सर तक का नाम आना बेहद गंभीर मुद्दा है। इसकी उच्च स्तरीय न्यायिक जांच हो।

Tags
Back to top button
Close